हेमा मालिनी नहीं बल्कि संजीव कुमार का पहला प्यार थीं ये एक्ट्रेस

हिंदी सिनेमा जगत के मशहूर अभिनेता संजीव कुमार आज भी सभी के दिलों में राज करते हैं। उन्होंने अपने अभिनय से लोगों को अपनी सराहना करने पर मजबूर कर दिया। हिंदी फिल्मों में संजीव कुमार को संजीदा किरदार निभाने के लिए हमेशा याद किया जाता रहेगा। वैसे तो उन्होंने अपनी हर फिल्म एक मजबूत किरदार निभाया है लेकिन फिस्म शोले के लेकिन फिल्म शोले के ठाकुर बलदेव सिंह से उन्होंने बच्चों से लेकर बड़ों तक में पहचान बना ली। आज भी जब लोग फिल्म शोले को देखते हैं तो ठाकुर के किरदार की सराहना की जाती है।

संजीव कुमार कभी किसी किरदार के लिए मना नहीं किया और जो भी किरदार किया खुद को उसी के अनुसार ठाल लिया। जवानी में भी वो बुजुर्ग किरदार निभाते रहे। संजीव कुमार की जिंदगी उनके फिल्मों में निभाए ज्यादातर किरदारों की तरह उथल पुथल रही। अभिनेता संजीव कुमार अपनी फिल्मों के साथ-साथ अपनी निजी जिंदगी को लेकर भी लोगों के बीच चर्चा का विषय बने। फिर चाहे वह घर खरीदने की बात हो या उनका पहला प्यार… संजीव कुमार के चाहने वालों के लिए ऐसे ही आज हम लेकर आए है 80 और 90 के दौर का वह किस्सा जो वहुत ही चर्चा में रहा था और वह था संजीव का प्यार

आपको बता दें संजीव कुमार, हेमा मालिनी से शादी करना चाहते थे, लेकिन हेमा से पहले वह किसी और संग रिश्ते में बंधना चाहते थे। नूतन संजीव कुमार के लिए नूतन लव एट फर्स्ट साइट थीं। उनकी साधारण सी सीरत और साधा रूप संजीव कुमार को काफी पसंद था। संजीव कुमार ने कथित तौर पर एक पत्रिका से अपने और नूतन के रिश्ते की बात कही थी। नूतन साल 1968 में अभिनेता संजीव कुमार के साथ फिल्म देवी की थीं और सेट पर ही दोनों के दिल एक-दूसरे के करीब आ गए थे,लेकिन नूतन के पति को यह बर्दाश्त नहीं हुआ।फिल्म 1969 में फिल्म देवी के सेट पर नूतन ने संजीव को बुलाया और इसके बारे में पूछा।

तब पत्रिका में आर्टिकल छपा था कि नूतन अपनी शादी से खुश नहीं हैं और संजीव कुमार में खुशी ढूंढ रही हैं। बस नूतन का गुस्सा सातवें आस्मान पर था और जैसे ही संजीव उनके पास आकर कुछ बोले नूतन ने उन्हें सरेआम थप्पड़ मार दिया। आपको बता दें फिल्मी परिवार से होने के बावजूद भी नूतन का दिल किसी अभिनेता पर नहीं बल्कि इंडियन नेवी के लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीश बहल पर आया था और साल 1959 में नूतन शादी के बंधन में बंध गई थीं।

आपको बता दें नूतन से अलग होने के बाद संजीव को टूटे दिल का सहारा हेमा नजर आई थीं। ड्रीम गर्ल के साथ 1972 में सीता और गीता में काम करने के बाद 1973 में उन्होंने प्रपोज कर दिया था। हेमा उस समय तो मान गईं थीं, लेकिन बाद में मना कर दिया। कई कहते हैं कि संजीव कुमार का पहले हर्ट अटैक का कारण बनी थी। संजीव कुमार दिल की बीमारी के मरीज थे. 6 नवंबर, 1985 को 47 साल की उम्र में संजीव कुमार इस दुनिया को अलविदा कह गए. बॉलीवुड में उन्होंने कई मुकाम कायम किए और कई बेहतरीन फिल्मों का हिस्सा भी रहे।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Air News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara

Dhara

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *