इस चमत्‍कारी मंदिर में झाडू चढ़ाने से दूर हो जाती है बीमारी, जानें क्‍या है शिव के पातालेश्वर मंदिर का रहस्‍य

इस चमत्‍कारी मंदिर में झाडू चढ़ाने से दूर हो जाती है बीमारी, जानें क्‍या है शिव के पातालेश्वर मंदिर का रहस्‍य

आमतौर पर हिंदू धर्म में लगभग हर मंदिरों में देवी देवताओं को मिठाई चढ़ायी जाती है लेकिन हमारे देश में एक मंदिर ऐसा भी है जहां लोग भगवान को झाडू चढ़ाकर अपने अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं। इस अनोखे मंदिर में रोगमुक्ति की कामना लेकर हजारों भक्त भगवान का दर्शन करने आते हैं और उन्हें झाडू चढ़ाकर बीमारियों से दूर रखने की कामना करते हैं।

Advertisement

भगवान शिव का यह अनोखा मंदिर मुरादाबाद-आगरा राजमार्ग पर स्थित सद्बदी नामक एक छोटे से गांव में है। वैसे तो यह भगवान शंकर का मंदिर है लेकिन इसे पातालेश्वर मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। सोमवार को भगवान शिव का दिन माना जाता है इसलिए इस दिन इस मंदिर में भारी भीड़ होती है।

यह है मंदिर का इतिहास

भगवान शिव का यह मंदिर लगभग 150 साल पुराना है और स्थानीय लोगों का मानना है कि प्राचीन काल से ही इस मंदिर में भगवान शंकर को झाड़ू चढ़ाने की परम्परा आज तक चली आ रही है। इस अनोखे मंदिर में सिर्फ भगवान शिव की एक शिवलिंग के अलावा अन्य कोई मूर्ति नहीं है।

क्यों चढ़ाते हैं झाडू

माना जाता है कि इस मंदिर में भगवान शिव को झाडू चढ़ाने से त्वचा से संबंधित सभी तरह के रोग दूर हो जाते हैं। आसपास के लोगों का मानना है कि इस मंदिर में चमत्कारी शक्तियों की कृपा से भक्तों के त्वचा रोग ठीक हो जाते हैं। इस मंदिर में आकर भगवान शंकर को झाडू चढ़ाने के बाद सभी लोग त्वचा रोग से मुक्त हो जाते हैं। इसी मनोकामना के साथ भक्त इस मंदिर में भगवान शिव को झाडू चढ़ाने के लिए आते हैं। इस मंदिर के इस अनोखे चमत्कार की कहानी लगभग ज्यादातर स्थानों पर लोगों तक पहुंच चुकी है इसलिए सोमवार के दिन इस मंदिर में भारी संख्या में दूर-दूर से लोग आते हैं और रोगमुक्त होकर जाते हैं।

Advertisement

Dhara

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *